Gunjan Saxena: The Kargil Girl- Bollywood Movie on Netflix

Gunjan Saxena Kargil Girl Movie
Reading Time: 4 minutes

Gunjan Saxena: The Kargil Girl Title took us back in 1999 Kargil War and Its Heroes and the already movies from Bollywood on the Subject from Hritish Roshan and Priti Zinta Starrer ‘Lakshya’ in which Hritik Roshan got a purpose after joining the Indian Army, J.P. Dutta big Stars in LOC: Kargil and More released in the Past. 

Gunjan Saxena: the Kargil Girl is a Bony Kapoor and Late Sridevi’s Star Daughter ‘Janvi Kapoor’s Movie from the House of Karan Johar. Hence it’s not a Defence and Kargil Movie.

It’s an upside-down of the real story and facts about the Real Kargil Girl- Gunjan Saxena, an Ex- Indian Air Force Officer who fly Cheetah Helicopter and was Posted During the War in Kargil.

Sharan Sharma, Debut as an Independent Director for ‘Gunjan Saxena: The Kargil Girl’, 

Director Sharan Sharma grows up in the Shadow on Karan Johar and his debut as Director in KJo’s Home Production ‘Dharma Production’ Gunjan Saxena: The Kargil Girl, is a reflection of Karan Himself.

A Defense Movie based on a Girl in “Kargil War’ flying helicopters for rescue and other mission becomes just another Karna johar’s product of feminist and Indian Middle-Class Drama.

Offical Trailer: Gunjan Saxsena

Gunjan Saxena Movie Cast

  • Janhvi Kapoor as IAF pilot Gunjan Saxena
    • Riva Arora as Young Gunjan
  • Pankaj Tripathi as Anup Saxena, Gunjan’s father
  • Angad Bedi as Anshuman Saxena, Gunjan’s brother
    • Aaryan Arora as Young Anshuman
  • Manav Vij as Commanding officer Gautam Sinha
  • Vineet Kumar Singh as Fight commander officer Dileep Singh
  • Ayesha Raza Mishra as Kirti Saxena Gunjan’s mother[6]
  • Chandan K Anand as Chief Instructor Ashish Ahuja
READ NOW  'Ghulam Hasan Khan' in Hunches 'n' Punches Sep'2020 Edition

Movie Story: Gunjan Saxena: The Kargil Girl

गुंजन सक्सेना दी कारगिल गर्ल , एक पारिवारिक माध्यम वर्गीय परिवार की कहानी है | फिल्म की मुख किरदार बोनी कपूर की बेटी जानवी कपूर ने निभाया है साथ में है ‘पंजक त्रिपाठी‘ पिता और बड़े भाई के किरदार में है ‘अंगद बेदी’ | 

फिल्म की कहानी दिलचस्प है , गुंजन को हवा में जहाज उड़ाने का सपना है ‘पायलट ‘ बनने का | पर हमारे  समाज में तो लड़किया बड़े हो के गृहणी ही बनती है , यह मेरा नहीं फिल्म की कहानी में दिखाया गया है |

गुंजन दसवीं में टॉप करती है और अपनी ईझा बताती है और अपने पिता को मना लेती है | फिर कुछ फ़िल्मी तमाशा और तमाशा करते करते गुंजन ग्रेजुएट हो जाती है | 

दिल्ली में फ्लाइंग स्कूल के लिए पैसे नहीं है , फीस दुगनी हो गयी है | फिर अचानक खबर आती है अख़बार में इश्तिहार में की भारतीय वायु सेना में लड़किया पायलट बन सकती है और गुंजन को बुला लिया जाता है | और ताजुब है की सिर्फ गुंजन ही सेलेक्ट हो पाती है | अरे हां , सिलेक्शन से बिच में पंकज त्रिपाठी दंगल के आमिर खान बन जाते है | 

गुंजन की ट्रेनिंग ख़तम होती है और वो आदमपुर एयर फाॅर्स बेस ज्वाइन करती है | यहाँ उस के पिता जी नहीं है और अन्य साथी, लड़की होने की वजह से दूर रहते है | बात कुछ जमी नहीं , नो फलर्टिंग | ‘दोनॉट मेस विथ गर्ल्स विथ फैंसी लास्ट नाम ‘ | 

जानवी का यूनिट हेड जानवी को ट्रैन करता है और कारगिल की जंग में भेजता है | फिर एक दिन ‘जानवी’ को मौका मिलता है अपने हुनर का लोहा मनवाने का और उस ने कर दिखाया जो और नहीं कर सके | 

असली ‘दी कारगिल गर्ल ‘ हो सौर्य चाकर मिला था और फ़िल्मी हो एक पहचान | पर यह कहानी सच्ची नाम और वास्तिविक हस्ती की ‘काल्पनिक कहानी’है  हिंदी मसाला फिल्म परोसने के लिए | 

IAF Complaints on movie Gunjan Saxsena

फिल्म में दिखाए गए सेना के ऑफिसर्स और सेना में काम करने का तरीका ऐसा नहीं है | सेना में औरतो की इज़्ज़त है और रहे गी | 

नोट : सेना के ऑफिसर्स मेस (ऑफिसर्स क्लब) मैं ऑफिसर्स का परिवार भी आता है यानी के ऑफिसर की बीवी और बचे भी | 

Gunjan Saxena: The Kargil Girl Movie Review

Janavi Kapoor aka ‘Gunjan Saxena’ played the role of a girl who is thrilled and had only dream to fly planes up in the Blue Sky. Born in an Army Family, seems a misfit act as an Army Officer of ‘Pankaj Tripathi’ but true to character as a feminist father. 

Gunjan Sexsena Review

In the Movie, the portrait of the Army Officer’s Family is wrong and not correct. My self born in Defence Family can say with confidence. 

Pankaj Tripathi as an Encouraging father to the girl child but failed to raise the Boy with the same approach. His Son Angad Bedi as a protective elder brother played the role well. 

Gunjan a Brilliant girl in academics pursues the Studies till Graduation and lands in Indian Air Force’s first women officer’s batch of 1995. And the harassment, disrespect, and nonacceptance from the fellow male officers and juniors shattered her. 

Her Journey as a Girl for a Drama movie in a Corporate world and in any office can be digestible to any defense person but not in Arm Forces. 

The movie is a Good attempt to portrait a Girl with Dream and get acceptance and recognition later in the movie but failed as a Defence Movie on a ‘War’.

Our Score
Click to rate this post!
[Total: Average: ]
Facebook Comments
Jeet Dhimann

Studying Psychology, Just Another Poor Philosopher, Foodie, Netflix Fan, Food Reviewer on Zomato, Digital Marketer By Profession & Aspiring Entrepreneur. Went to Both for Studies ITI & IIT-D